कोरोना की तीसरी लहर news in hindi : Garhwal News

देश में कोरोना की तीसरी लहर की बात चल रही है। आशंका तो पहले से ही जताई जा रही है लेकिन अब महाराष्ट्र से जो खबरें आ रही है वो सबकी चिंता बढ़ा रही हैं महाराष्ट्र में अचानक बढ़े केस के बाद सरकार दावा कर रही है कि राज्य में तीसरी लहर ने दस्तक दे दी है !

मुंबई की मेयर का ये बयान खतरे की घंटी बजा रहा है। कि आने वाले दिनों में मुंबई के लिए कितना बड़ा खतरा आने वाला है। पिछले कुछ दिनों के आंकड़े देखे तो जहा मुंबई में 30 अगस्त को एक दिन में तीन सौ चौंतीस नए केस आये थे वही दो मरीजों की मौत हुयी थी ! 21 अगस्त को भी ये आंकड़ा तीन सौ तेईस नए केस आये थे और एक की मौत हुयी थी

तीन सितम्बर को भी चार  सौ बय्यालीस नए केस आये और तीन लोगों की मौत हो गयी लेकिन इन केसों के बावजूद लोग मानने को तैयार ही नहीं हैं मुंबई की डागर मंडी की ये तस्वीरें ज्यादा पुरानी नहीं है केवल दो दिन पहले की इन तस्वीरों को देखकर लगता ही नहीं की मुंबई के लोगो में कोरोना का कोई खौफ है !

मुंबई ही नहीं महाराष्ट्र  के आंकड़े देखें तो उससे भी ज्यादा चिंताजनक है 5 सितम्बर को जहा महाराष्ट्र में चार हजार सत्तावन नए केस आये थे वही 67 लोगो की मौत हुयी थी वही 6 सितम्बर को तीन हजार छै सौ तेईस नए केस आये और सैंतीस लोगो की मौत हो गयी। मुंबई के अलावा नागपुर सतारा रत्नागिरी और पुणे में भी केस बढ़ रहे हैं।

नागपुर में तो केस पहले से ही दुगने हो गए हैं। जो आंकड़े कोरोनान  पॉजिटिव के हमारे सामने आये वो बहुत दिनों बाद डबल के फिगर में हम  आ गए है इसका मतलब हमारे यहाँ थर्ड वेब का आगमन हो गया है नागपुर में रेस्टोरेंट शाम आठ बजे और दुकाने शाम चार बजे बंद करने का आदेश जारी कर दिया गया है मुंबई और पुणे भी लोग जिस तरह से लापरवाहियां कर रहे हैं यहाँ भी जल्द ही पाबंदिया लगाई जा सकती है !

मुंबई की मेयर का ये कहना है की तीसरी लहर पहले ही आ  चुकी है। महाराष्ट्र में दूसरी तरफ कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच टीऍम सी ने गणेश उत्त्सव को लेकर भी नयी गाइड लाइन जारी की है। टीएमसी ने मंडल में जाकर गणपति के दर्शन करने पर रोक लगा दी है !

मंडलों को Online दर्शन करने की व्यवस्था करने को कहा गया है गणेश जी की मूर्ती को पंडालों में लाने के लिए सिर्फ 10 लोगों को ही इजाजत होगी वो भी उन्हें जिनको वैक्सीन की दोनों खुराक लग चुकी है।

घरों में विराजमान होने वाले गणपति की मूर्ती लाने के लिए भी पांच लोगो को ही परमिसन मिलेगी। मुंबई में सबसे ज्यादा वैक्सीनेशन हुआ है लेकिन दूसरी तरफ लगातार जो मामले कोरोना से ग्रसित लोगो के आ रहे हैं वो भी नंबर वन मुंबई को बनाते हैं ऐसे में नयी गाइड लाइन अब जारी की गयी है ताकि गणेश उत्त्सव के दौरान ज्यादा भीड़ इक्कठी न हो।

निश्चित तौर पर सरकार और डीएमसी की चिंता जो है वो नए मामले सामने निकलकर आ रहे हैं उसको देखते हुए पड़ी है। यही वजह है की डीएमसी की और से नयी गाइड लाइन जारी की है फिजिकली तौर पर गणेश बढ़े पंडालों में जाकर अब आम आदमी जो है वो दर्शन नहीं कर पायेगा।

Garhwal News mask after vaccination
वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बाद मास्क कितना जरूरी
Garhwal News rajasthan new hawai patti
पाकिस्तान बॉर्डर के पास आज गरजेंगे भारतीय सेना के फाइटर प्लेन
Garhwal News Corona ki tisri lahar
कोरोना की तीसरी लहर news in hindi : Garhwal News

मंडलों को ये रिकवेस्ट की गयी है की आप ऑनलाइन दर्शन की सुविधा जो है उसकी वयवस्था पंडालों में करें ताकि ज्यादा भीड़ वहां इलाकों में और जो मंडल में करता हैं वो भी वह ज्यादा भीड़ इक्कठा न कर सकें । दूसरा शुक्रवार से गणेश उत्त्सव की शुरुआत हो रही है अगले देश दिनों तक बड़े धूम धाम से मनाया जाएगा ऐसे में गणेश प्रतिमाओं को पंडालमे लाने के लिए केवल  दश लोग ही पंडाल में अलाउड होंगे और जो घर में विराजमान गणपति की प्रतिमा को  लाने के लिए पांच लोगों की  ही अनुमति है।

मुंबई के पिछले पांच दिनों की रफ़्तार के आंकड़ों पर नजर डालतें हैं। तीन सितम्बर का आंकड़ा नब्बे हजार तीन सौ नौ डोज लगी थी। उसके बाद 4 सितम्बर को डोज बड़ी और एक लाख अस्सी हजार दो सौ बहत्तर डोज लगी फिर पांच सितम्बर डोज गिरी नीचे फिर बत्तीस हजार आठ सौ सोलह लोगो को ये डोज लगी!

6 सितम्बर को ये आंकड़ा फिर बढ़ा और एक लाख बत्तीस हजार आठ सौ चौदह और फिर सात सितम्बर को फिर नीचे आया आंकड़ा अस्सी हजार सात सौ छप्पन डोज लगी ! कुल मिलकर जो रफ़्तार है टीकाकरण की मुंबई में वो ऊपर नीचे होती रही फिर भी मुंबई, भारत का नंबर वन शहर बन गया है और अठारह साल की जो कुल जनसंख्या है उसमें कितने फीसदी लोग वैक्सीनेटर हो चुके है। पहली डोज अस्सी फीसदी लोगों को वैक्सीन लग चुकी है जबकि दूसरी डोज की क्या स्थिति है तो तकरीबन तीस फीसदी लोगों को दूसरी डोज भी लग चुकी है। तो वैक्सीनेशन जरूर करवाइये। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *